प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना:गर्भवती महिलाओं के लिए सरकारी योजनाएं

गर्भवती महिलाओं के लिए केंद्र सरकार योजना:

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) का मुख्य उद्देश्य है काम करने वाली महिलाओं को उनके मेहनती परिश्रम का मूल्य सही से मिले, और उन्हें गर्भवती और स्तनपान कराने वाली माताओं के स्वास्थ्य की चिंता मुक्त करना है। इसके माध्यम से हम नहीं सिर्फ उनके नुकसान की भरपाई कर रहे हैं, बल्कि उनके और उनके शिशु के उचित देखभाल और पोषण की सुनिश्चितता को भी बढ़ावा दे रहे हैं।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना
प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना कब शुरू हुई:

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (पीएमएमवीवाई) को 2017 में भारत सरकार ने मातृत्व संबंधित लाभों के लिए शुरू किया था। इसे पहले ‘इंदिरा गांधी मातृत्व सहयोग योजना’ के नाम से जाना जाता था, और यह महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के तत्वावधान में चल रहा है। यूपीएससी के सामान्य अध्ययन पेपर- II में यह योजना केंद्र और राज्यों द्वारा आबादी के कमजोर वर्गों के लिए कल्याणकारी योजनाओं का हिस्सा है।
सरकार की मातृत्व लाभ योजना, या प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना (पीएमएमवीवाई), वित्तीय वर्ष 2020 तक पात्र महिलाओं की संख्या 1.75 करोड़ को पार कर गई है। 2018 से 2020 तक, 1.75 करोड़ लाभार्थियों को 5,931.95 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजनाके लाभ:

गर्भवती महिलाओं को बढ़ी हुई पोषण संबंधित जरूरतों को पूरा करने और मजदूरी हानि की आंशिक भरपाई के लिए, उनके बैंक खाते में सीधे नकद लाभ प्रदान किया जाता है। यह योजना प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लाभार्थी कौन हैं, इसके उद्देश्यों और सरकारी वित्त प्रबंधन की नवीनतम जानकारी प्रदान करता है। यह योजना विभिन्न सामाजिक वर्गों की महिलाओं को समृद्धि की दिशा में एक कदम आगे बढ़ने में मदद कर रही है।

इस योजना से, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं को उनके पहले जीवित बच्चे के जन्म के दौरान मदद मिलेगी। योजना का लाभ राशि, लाभार्थी के बैंक खाते में सीधे भेजा जाएगा डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (DBT) के माध्यम से। सरकार तीन किश्तों में राशि का भुगतान करेगी:

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना
प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की किस्त:

पहली किस्त आपको पहली किस्त 1000 रुपए मिलेगा वो भी गर्भावस्था के पंजीकरण के समय मिलेगा |
दूसरी किस्त आपको योजना की दूसरी किस्त 2000 रुपये मिलेगा और इसके लिय आपको छह महीने की गर्भावस्था के बाद कम से कम एक प्रसवपूर्व जांच करवाना होगा |
तीसरी किस्त तीसरी किस्त आपको 2000 रुपए मिलेगी | इसके लिए आपको जब बच्चे का जन्म पंजीकृत होता है और बच्चे को BCG, OPV, DPT, और हेपेटाइटिस-B सहित पहले टीके का चक्र शुरू होता है , तब मिल जायगा |

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना फॉर्म pdf:

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक महत्वपूर्ण योजना है जो गर्भवती महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करती है। यह योजना नई माँ बनने वाली महिलाओं के लिए है जो आर्थिक कमी से जूझ रही हैं। इस योजना के अंतर्गत, सरकार गर्भवती महिलाओं को एक आर्थिक मदद राशि प्रदान करती है ताकि वे और उनके शिशु को स्वस्थ रह सकें।

योजना के लाभार्थियों को आवेदन करने के लिए विशिष्ट फॉर्म की आवश्यकता होती है, जो पीडीएफ फॉर्मैट में उपलब्ध है। इस फॉर्म को आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सकता है या स्थानीय आर्थिक सहायता केंद्र से मिल सकता है। फॉर्म में आवश्यक जानकारी भरकर और सभी आवश्यक दस्तावेज साथ लेकर योजना के लाभ का हकदार बना जा सकता है।


पीएम मातृ वंदना योजना की मुख्य बातें:

योजना का नाम प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना (pmmvy)
योजना क जन्म 01 जनवरी 2017 
योजना का लाभ  गर्भवती और स्तनपान कराने वाली माताओं को
योजना का राज्य हर राज्य और शहर के लिय हे
योजना की रकम  6000 रुपए 
योजना की कुछ शर्ते उन गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं को नहीं मिलेगा जो केंद्रीय या राज्य सरकार या किसी सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम में नियमित रोजगार में हैं या जो किसी अन्य योजना या कानून के तहत समान लाभ प्राप्तकर्ता हैं। इससे सार्वजनिक सेक्टर में नियोक्ताओं की समृद्धि में योजना का उद्देश्य अच्छी तरह से पूरा होता है।
हेल्पलाइन नंबर नंबर 104 डायल करना होगा।
अफिशल वेबसाईट क्लिक करे

आवेदकों को कुछ आवश्यक दस्तावेज़:

गर्भावस्था सहायता योजना का लाभ उन महिलाओं को ही मिलता है जिनकी आयु 19 वर्ष से कम है, और जो 1 जनवरी 2017 के बाद गर्भवती हुई हैं। योजना के तहत, आवेदकों को कुछ आवश्यक दस्तावेज़ प्रस्तुत करने की आवश्यकता है, जैसे कि:

  1. राशन कार्ड
  2. बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र
  3. माता-पिता का आधार कार्ड
  4. बैंक खाते की पासबुक
  5. माता-पिता का पहचान पत्र

इससे सुनिश्चित होता है कि योजना का लाभ सिर्फ उन्हें ही मिलता है जिनकी आर्थिक स्थिति निम्न या मध्यम है, और गर्भवती महिलाओं को सहारा मिलता है ताकि वे स्वस्थ और सुरक्षित गर्भावस्था बिता सकें।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना online:

योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर पहुंचेंपहला कदम है ऑनलाइन आवेदन करने के लिए योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना। वहां, होम पेज पर आपको लॉगिन फॉर्म दिखेगा।
लॉगिन फॉर्म भरेंआवेदन करने के लिए आपको लॉगिन फॉर्म में सभी आवश्यक जानकारी भरनी है, जैसे Email ID, पासवर्ड, Captcha Code, आदि। सभी जानकारी भरने के बाद, ‘Login’ बटन पर क्लिक करें।
योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करेंलॉगिन करने के बाद, आप इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरें।
आवेदन पत्र सबमिट करेंसभी जानकारी भरने के बाद, ‘Submit’ बटन पर क्लिक करें और आवेदन पत्र को सबमिट करें।

Leave a Comment

Translate »